राज्य सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य सहित कुल चार बीजेपी विधायकों ने समाजवादी पार्टी ज्वाईन की

यूपी चुनावी सियासत

राज्य सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य सहित कुल चार बीजेपी विधायकों ने समाजवादी पार्टी ज्वाईन की. वहीं अब समाजवादी पार्टी को झटका लगा है. सपा से तीन बार विधायक रहे हरिओम यादव 14 जनवरी को बीजेपी में शामिल हो रहे हैं.

तीन बार रहे हैं विधायक
सिरसागंज से फिर एक बार टिकट की दावेदारी कर रहे विधायक हरिओम यादव को रामगोपाल यादव के साथ मतभेदों का खामियाजा भुगतना पड़ गया है. मतभेदों के कारण सपा ने सिरसागंज से विधायक को टिकट देने से इंकार कर दिया है. वहीं दूसरी ओर विधायक को बीजेपी नेतृत्व से सिरसागंज से टिकट मिलने का आश्वासन मिला है. जिसके बाद अब तीन बार के सपा विधायक के बीजेपी में शामिल होने की चर्चा है. ऐसे में अब बताया जा रहा है कि विधायक हरिओम यादव 14 जनवरी को बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. हरिओम यादव शिकोहाबाद से 2002 में और 2012 व 2017 में सिरसागंज सीट से विधायक रह चुके हैं.

यादव लैंड के कद्दावर नेता
पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी की प्रचंड लहर के दौरान 2017 में फिरोजाबाद जिले की एक मात्र सिरसागंज सीट ही समाजवादी पार्टी बचा पाई थी. लेकिन अब रामगोपाल यादव से मतभेदों के कारण सपा विधायक का टिकट कटना तय माना जा रहा है. जिसके बाद विधायक ने मकर संक्रांति के अवसर पर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और लक्ष्मीकांत वाजपेई की उपस्थिति में बीजेपी में शामिल होंगे. बात दें कि हरियोम यादव का नाम फिरोजाबाद जिले के कद्दावर नेताओं में आता है. उनके बीजेपी में आने से यादव लैंड में पार्टी को मजबूत होने की उम्मीद है.

सरकार की नजर, लेकिन बात को नहीं कर रहा
एक के बाद एक इस्तीफे हो रहे हैं, लेकिन भाजपा की तरफ से इन्हें रोकने की कोशिश भी नहीं हो रही है। बताया जाता है कि भाजपा चाहती है कि जितने लोग खुद से चले जाएं, उतना ही आसान होगा इनकी जगह किसी दूसरे को टिकट देना। स्वामी प्रसाद मौर्य ने भी कहा कि उनसे भाजपा के किसी साथी ने संपर्क नहीं किया। हालांकि, स्वामी प्रसाद मौर्य और दारा सिंह चौहान के इस्तीफे के बाद डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का ही बयान सामने आया है। केशव मौर्य ने पहले स्वामी और फिर दारा सिंह के इस्तीफे के बाद ट्विट किया और बोले- 5 साल तक सरकार में मैंने सबसे गुहार लगाई, मेरी बातों को सरकार ने अनसुना कर दिया’। इसके साथ ही दारा सिंह चौहान ने दलितों को लेकर सरकार पर साधा निशाना कहा- ‘लोग मलाई खा रहे है और दलितों को कुछ नहीं मिल रहा’ ।