लोकायुक्त कार्यवाही: अनुकम्पा नियुक्ति दिलाने 1 लाख की रिश्वत लेते CMO रंगेहाँथ गिरफ्तार

बुलंदसोच न्यूज़,24 दिसम्बर 2021 सतना।

अनुकम्पा नियुक्ति दिलाने के नाम पर मुख्यनगरपालिका अधिकारी को एक लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त पुलिस ने रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया।सतना जिले के चित्रकूट में लोकायुक्त पुलिस ने बड़ी कार्रवाई कर नयागांव में स्थित सीएमओ(CMO) के शासकीय निवास में यह कार्यवाही की है।पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त रीवा गोपाल सिंह धाकड़ के मार्गदर्शन में यह कार्रवाई आज की गई है।आरोपित सीएमओ का नाम के के सिंह बताया जा रहा है।

अनुकंपा नियुक्ति के लिए मांगी थी रिश्वत

आरोपित के के सिंह द्वारा शिकायतकर्ता अनिल तिवारी निवासी नयागांव से अनुकंपा नियुक्ति के लिए रिश्वत की मांग की गई थी। जैसे ही शिकायतकर्ता आज सुबह चित्रकूट के नयागांव स्थित सीएमओ के शासकीय आवास पर पहुंचा तो सीएमओ केपी सिंह उससे मिला और पहले से लोकायुक्त द्वारा प्लांट की गई राशि एक लाख रुपये की रिश्वत शिकायतकर्ता से अपने हाथ के ले ली। इसी दौरान अचानक मौके पर पहुंची लोकायुक्त रीवा की टीम ने आरोपित सीएमओ को रिश्व्त लेते रंगे हाथ ट्रेप कर लिया।


कोरोना का कहर:देश के इस प्रदेश में फिर से लगा 10 दिन का लॉकडाउन,1 दिन में 7 राज्यों में ओमिक्रॉन के 96 नए केस

इस टीम ने की कार्यवाही

चित्रकूट के रिश्वतखोर सीएमओ केके सिंह को ट्रेप करने यह छापामार कार्रवाई प्रवीण सिंह परिहार उप पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त रीवा द्वारा की गई। इस दौरान टीम में निरीक्षक जियाउल हक, प्रधान आरक्षक मुकेश मिश्रा, सुरेश कुमार, आरक्षक पवन पांडेय, प्रेम सिंह, शैलेंद्र मिश्रा शाहिद खान सहित करीब 15 सदस्यीय दल के साथ मिल कर कार्रवाई की गई है। डीएसपी लोकायुक्त प्रवीण सिंह परिहार ने बताया कि यह कार्रवाई अभी जारी है। आरोपित सीएमओ के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है।

महीने भर के भीतर रीवा लोकायुक्त की 9 वीं कार्यवाही

रीवा लोकायुक्त कार्यवाही के मामले में पूरे प्रदेश में नंबर 1 पर है।दिसम्बर महीने की रीवा लोकायुक्त की यह 9 वीं कार्यवाही है।पुलिस,पटवारी,समिति प्रबंधक,प्राचार्य,वनरक्षक समेत ऐसा कोई भी विभाग नहीं बच रहा जहां लोकायुक्त की धमक सुनाई न दे रही हो।सीएमओ(CMO) को पकड़ने के बाद यह 9 वीं बड़ी कार्यवाही लोकायुक्त ने की है।रीवा लोकायुक्त की इन कार्यवाहियों से आम जन में लोकायुक्त के प्रति विश्वास और रिश्वतखोरों में भय उत्पन्न हो रहा है।

बॉक्स ऑफिस में धूम मचाने के लिए रणवीर सिंह, दीपिका स्टारर “83” हैं तैयार

भ्रष्टाचारी बख्शे नहीं जाएंगे।आम जन से कोई भी लोकसेवक रिश्वत की मांग करे तो वह सीधे लोकायुक्त में शिकायत करें।इस माह दो राजपत्रित अधिकारी समेत 9 रिश्वतखोर पकड़े जा चुके हैं।चित्रकूट में CMO ने 1 लाख की रिश्वत की मांग की थी,जिसे रंगे हाँथ गिरफ्तार किया गया है।भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्यवाही जारी है।

गोपाल सिंह धाकड़
एसपी,लोकायुक्त रीवा।