विधानसभा सीट की दिलचस्प लड़ाई पिता vs पुत्री आमने सामने

उत्तरप्रदेश

चुनाव भी न जाने क्या क्या रंग दिखाता है कभी कभी एक ही विधानसभा सीट के लिए रिश्तेदार ही आपस में एक दूसरे के खिलाफ लड़ते थे यहां तक कि भाई भाई भी एक दूसरे के खिलाफ खड़े हो जाते हैं लेकिन उत्तर प्रदेश में हो रहे 2022 के विधानसभा चुनाव में एक बड़ा ही दिलचस्प मुकाबला देखने को मिल रहा है ,वह भी पिता और पुत्री का।

उत्तर प्रदेश के औरैया जिले की बिधूना सीट से भाजपा ने रिया शाक्य को प्रत्याशी घोषित किया है, वहीं इसी सीट पर भाजपा से ही 2017 में विधायक रहे विनय शाक्य ने सपा का दामन थाम लिया है। रिया शाक्य विनय शाक्य की पुत्री हैं अब बिधूना सीट से पिता पुत्री के बीच बड़ा ही दिलचस्प मुकाबला देखने को मिल रहा है ,भाजपा से प्रत्याशी रिया शाक्य ने आरोप लगाया है कि उनके पिता को चाचा और दादी ने जबरन सपा में शामिल करवाया है। सपा ने अभी तक इस सीट पर प्रत्याशी घोषित नही किया है। देखना दिलचस्प होगा कि पिता और पुत्री के बीच बिधूना सीट पर हो रही लड़ाई में कौन बाजी मारता है।

सुधीर मिश्रा