राजेन्द्रग्राम क्षेत्रांतर्गत नाबालिग से दुष्कर्म का मामला आरोपी की गिरफ्तारी के लिए एडीजी ने घोषित किया 30,000/-रु0 का ईनाम

पुष्पराजगढ़-

थाना राजेन्द्रग्राम क्षेत्रांतर्गत नाबालिग अंजलीबाई (परिवर्तित नाम) की मृत्यु की सूचना थाना प्रभारी राजेन्द्रग्राम को प्राप्त हुई। घटनास्थल का परीक्षण करने पर पाया गया कि आरोपी यषवंत मरावी निवासी महोरा थाना राजेन्द्रग्राम द्वारा मृतिका को यौन उत्तेजना वाली दवा खिलाकर मृतिका के साथ यौन संबंध स्थापित किया गया जिसके कारण अत्यधिक रक्तस्त्राव हो जाने के कारण मृतिका नाबालिग अंजलीबाई (परिवर्तित नाम) की मृत्यु हो गयी। जिस पर थाना राजेन्द्रग्राम में अपराध क्र0 338/21 धारा 363, 366ए, 376(2)एन, 304 भादवि. एवं 3,4,5,6 पाक्सो एक्ट में प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। घटना की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए अति0पुलिस महानिदेषक शहडोल जोन श्री डी.सी.सागर के द्वारा अनूपपुर मुख्यालय का भ्रमण किया गया एवं घटना के संबंध मंे जानकारी प्राप्त की गई व घटना की समीक्षा की गई। फरार आरोपी यषवंत मरावी निवासी महोरा थाना राजेन्द्रग्राम की शीघ्र गिरफ्तारी के लिए निर्देषित किया गया एवं पुलिस रेग्युलेषन के पैरा क्रमांक 80(बी)-1 के अंतर्गत फरार आरोपी यषवंत मरावी निवासी महोरा थाना राजेन्द्रग्राम की गिरफ्तारी हेतु 30,000/-रु0 का ईनाम उद्घोषित किया गया। अति0पुलिस महानिदेषक शहडोल जोन श्री डी.सी.सागर के द्वारा सम्पूर्ण घटनाक्रम में वैज्ञानिक पद्धति का सहारा लेते हुए साक्ष्य संकलित करने व आरोपी की गिरफ्तारी हेतु एक विषेष टीम गठित करने हेतु निर्देषित किया गया। अति0पुलिस महानिदेषक शहडोल जोन के द्वारा 06 दिसम्बर की घटना को दृष्टिगत रखते हुए जिला अनूपपुर के समस्त थानों के कानून व्यवस्था संबंधी स्थिति की समीक्षा की गई तथा नगर अनूपपुर एवं थाना कोतमा अंतर्गत कोतमा नगर का भ्रमण किया गया।

अनिल दुबे की रिपोर्ट