बुमराह और शमी के पास माइलस्टोन हासिल करने का मौका

भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन में होने जा रहे पहले टेस्ट मुकाबले में अपने-अपने व्यक्तिगत माइलस्टोन हासिल कर सकते हैं।

मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह की भारतीय जोड़ी शुरू से ही भारत के तेज आक्रमण की अगुवाई करने की प्रबल दावेदार रही है। टीम इंडिया के सबसे विश्वसनीय पेसर होने के अलावा, बुमराह और शमी की जोड़ी 26 दिसंबर से शुरू होने वाली तीन मैचों की टेस्ट सीरीज़ में दक्षिण अफ्रीका के सामने शानदार प्रदर्शन करने के लिए तैयार हैं।

भारत टेस्ट में “प्रोटियाज” के खिलाफ पहली श्रृंखला जीत का इंतजार कर रहा है। बुमराह और शमी भारत के विश्वसनीय गेंदबाजों में से हैं। दोनों को न्यूजीलैंड श्रृंखला के लिए आराम दिया गया था, जिसे भारत ने 1-0 के अंतर से जीता था, अब दोनों तेज गेंदबाजों से व्यक्तिगत और सामूहिक गौरव के साथ वापसी की उम्मीद की जाती है।

बुमराह को तीन और शमी को चाहिए पाँच विकेट

दोनों के व्यक्तिगत रिकॉर्ड के बारे में बात करे तो,
जसप्रीत बुमराह ने 2018 में भारत के इंद्रधनुष राष्ट्र के दौरे के दौरान अफ्रीका के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में टेस्ट डेब्यू किया। तब से, युवा खिलाड़ी ने कुल 24 टेस्ट खेले हैं।
बुमराह ने अपने टेस्ट करियर में अब तक कुल 101 विकेट लिए हैं।

हालांकि, भारत से दूर, 28 वर्षीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने 22 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें 97 स्कैलप उनके नाम हैं। घर से दूर 100 टेस्ट विकेटों के आंकड़े तक पहुंचने के लिए उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सिर्फ तीन और विकेट चाहिए।

वहीं, मोहम्मद शमी भी एक माइलस्टोन अपने नाम करने के करीब हैं। शमी 200 विकेट के निशान को छूने से सिर्फ पांच विकेट दूर हैं।
वो कपिल देव, जहीर खान, ईशांत शर्मा और जवागल श्रीनाथ के बाद यह उपलब्धि हासिल करने वाले पांचवें खिलाड़ी होंगे।
कुल मिलाकर शमी ने भारतीय टीम के लिए 54 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें उनके नाम पर 195 स्कैलप हैं।

शमी और बुमराह दोनों दक्षिण अफ्रीका में होने जा रहे टेस्ट सीरीज मुकाबले में भारत को जीत दिलाने की कोशिश करेंगे।