आवारा कुत्तों से परेशान माननीय:MLA रेस्ट हाउस में आवारा कुत्तों का आतंक,तीन महीने में 50 से अधिक व्यक्तियों को काट चुके हैं कुत्ते

आवारा कुत्तों से परेशान माननीय:MLA रेस्ट हाउस में आवारा कुत्तों का आतंक,तीन महीने में 50 से अधिक व्यक्तियों को काट चुके हैं कुत्ते
आवारा कुत्तों से परेशान माननीय:MLA रेस्ट हाउस में आवारा कुत्तों का आतंक,तीन महीने में 50 से अधिक व्यक्तियों को काट चुके हैं कुत्ते

बुलंदसोच,संवाददाता।

मालवीय नगर स्थित विधायक विश्राम गृह में माननीय आवारा कुत्तों से परेशान है। शिकायत के बावजूद कुत्तों को पकड़ने में नगर निगम के कर्मचारी कोई रूचि नहीं ले रहे हैं। बताया गया कि विधायक विश्राम गृह में आने वाले आगुन्तकों एवम कर्मचारियों की लगभग 50 से अधिक ऐसी संख्या है जिन्हें कुत्तों ने अबतक काट चुके हैं।

विधायक विश्राम गृह में कुत्तों का आतंक इस प्रकार से है कि यहां रहने वाले माननीय एवं उनके समर्थकों को पूरे समय कुत्तों का डर सताता रहता है कि कब कौन सा कुत्ता उन्हें काट ले और रैबीज के इंजेक्शन उन्हें लगवाने पड़ जाएं। बताया गया कि कैम्पस में 100 से अधिक आवारा कुत्ते घूमते रहते हैं इन्हें पकड़ने के लिए कई बार नगर निगम के अधिकारियों से शिकायत की गई लेकिन अब तक कोई भी समाधान नहीं निकल सका है।

50 से अधिक व्यक्तियों को काट चुके हैं कुत्ते

विधायक विश्राम गृह के कर्मचारियों एवं आगुन्तकों की संख्या लगभग 50 से अधिक हो चुकी है जिन्हें पिछले तीन महीनों में कुत्तों ने अपना शिकार बनाया है। विश्राम गृह के मेंटिनेंस कर्मचारी धर्मेंद्र पटेल ने बताया कि उन्हें बीते 24 दिसम्बर को कुत्ते ने काटा था ऐसे ही स्थाई कर्मी रामाश्रय,सोनू कारपेंटर को 26 दिसम्बर को कुत्ते ने काटा था जिसका इलाज अब भी चल रहा है। बताया गया कि प्रतिदिन एक से दो लोग इन आवारा कुत्तों के शिकार हो रहे हैं।

आवारा कुत्तों की धरपकड़ की जाती है। विश्राम गृह में खुला कैम्पस होने के कारण आवारा कुत्ते आ जाते हैं,इन्हें पकड़ने की निरंतर कार्यवाही की जाती है।

कुत्ता प्रभारी,नगर निगम जोन 7