Kalicharan Arrested: कालीचरण (kalicharan )खजुराहो से गिरफ्तार, रायपुर धर्म संसद में महात्मा गांधी पर की थी अमर्यादित टिप्पणी

रायपुर में हुई धर्म संसद में महात्मा गांधी पर विवादित टिप्पणी करने वाले कालीचरण( kalicharan)महाराज को गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्हें रायपुर पुलिस ने खजुराहो से गिरफ्तार किया है.रायपुर में कालीचरण महाराज पर दर्ज है केसधर्म संसद (Parliament of Religions)में महात्मा गांधी पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले संत कालीचरण को आखिरकार गिरफ्तार कर लिया गया है. इससे पहले उसे फरार बताया जा रहा था. अब मिली जानकारी के मुताबिक, संत कालीचरण को रायपुर पुलिस ने खजुराहो से गिरफ्तार किया है. उन्हें रायपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया है. आरोपी कालीचरण को अब रायपुर लाने की कार्यवाही की जा रही है.महात्मा गांधी को कोसा और गोडसे की मुक्तकंठ से प्रशंसा की थीउल्लखेनीय है कि रायपुर में आयोजित धर्म संसद के आयोजन में उस वक्त अफरातफरी मच गई थी जब कालीचरण महाराज ने अपने भाषण में महात्मा गांधी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते नाथूराम गोडसे को सराहा था. कालीचरण महाराज ने धर्म सांसद के मंच से महात्मा गांधी पर अमर्यादित टिप्पणी करते हुये नाथूराम गोडसे की मुक्तकंठ से प्रशंसा की थी.

Kalicharan Maharaj Arrested From Khujraho Madhya Pradesh After Inflammatory  Speech | Kalicharan Arrested: कालीचरण मध्य प्रदेश के खुजराहो से गिरफ्तार,  महात्मा गांधी के खिलाफ की थी ...

और पढ़े ..नेमावर केश: झुकी सरकार ,अब आगे सीबीआई (cbi) करेगी जांच ।

शिवराज के मंत्री बोले- एक्शन की जानकारी MP पुलिस की देनी चाहिए थी

मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कालीचरण की गिरफ्तारी की प्रक्रिया पर ऐतराज जताया है। उन्होंने ट्वीट किया- छत्तीसगढ़ पुलिस को अपने एक्शन की जानकारी मध्यप्रदेश पुलिस को देनी चाहिए थी। इससे इंटरस्टेट प्रोटोकॉल का उल्लंघन हुआ है। मध्यप्रदेश के पुलिस महानिदेशक छत्तीसगढ़ पुलिस से आपत्ति दर्ज कराएंगे।कालीचरण (kalicharan)

महाराज को रिलीज(release) करने की मांग

छत्तीसगढ़ में पूर्व मंत्री और भाजपा नेता बृजमोहन अग्रवाल ने ट्वीट कर कालीचरण महाराज को रिलीज करने की मांग की है। ऐसी कार्यवाही शासन का दुरुपयोग है, गांधी जी के सिद्धांतों के विरुद्ध है। इसमें उन्होंने #ReleaseKalicharanMaharaj हैशटेग का उपयोग किया है। कालीचरण महाराज को छोड़ने के लिए ट्विटर पर #ReleaseKalicharanMaharaj ट्रैंड चलाया जा रहा है।

और पढ़े..रीवा के जिला शिक्षा अधिकारी(DEO) समेत प्राचार्यों ने खरीदी में कर दिया लाखों का खेल,कलेक्टर की जांच में हुआ खुलासा।

धर्म संसद के आयोजक ने भी लगाए आरोप

धर्म संसद का आयोजन करने वाले नीलकंठ सेवा संस्थान के अध्यक्ष नीलकंठ त्रिपाठी ने भी कालीचरण महाराज पर आरोप लगाया था कि जब मैंने उन्हें राजनीतिक टिप्पणी करने से रोका तो उन्होंने मुझे मंच से ही हड़का दिया।