UK GOVT की नीतियों को पलीता लगा रहा KMVN:आदि कैलाश यात्रा के यात्रियों के साथ धोखाधड़ी करने निजी टूर ऑपरेटर को दी खुली छूट

Kmvn

बुलंदसोच विशेष,उत्तराखंड 03 मई 2022।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जहां एक ओर चार धाम यात्रियों के साथ धोखाधड़ी को रोकने के लिए प्रयासरत हैं,तो वहीं दूसरी ओर शासन का ही कुमायूं मंडल विकास निगम (KMVN) उनकी इस मंशा पर पलीता लगाते हुए दिखाई दे रहा है।KMVN ने आदि कैलाश यात्रा कराने वाले एक निजी टूर ऑपरेटर डिवाइन मंत्रा (trip to temple)के साथ अनुबंध कर यात्रियों के साथ धोखाधड़ी करने के लिए खुली छूट दे दिया है।
उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड में आदि कैलाश ओम पर्वत यात्रा पहले केएमवीएन और कई अन्य टूर ऑपरेटरों द्वारा संचालित की जाती थी। 2020 और 2021 में यात्रा KMVN द्वारा आयोजित नहीं की गई थी, लेकिन 2021 में कुछ टूर ऑपरेटरों ने सितंबर और अक्टूबर-2021 के महीने में इस यात्रा का संचालन किया।लेकिन अब KMVN ने यह यात्रा एक निजी टूर ऑपरेटर के साथ अनुबंध कर पुनः चालू कर दिया है जिसमें कई प्रकार की गड़बड़ियां सामने आ रही हैं।
बता दें कि 2019 में KMVN ने आदि कैलाश यात्रा की लागत लगभग 38000/- प्रति व्यक्ति निर्धारित की थी।उस समय यात्रा की अवधि 17 से 18 दिन की थी। लेकिन अब यात्रा की अवधि 8 दिन और शुल्क में 40% की वृद्धि हुई और बुकिंग के लिए एक एजेंट नियुक्त किया कर दिया गया है।

उत्तराखंड में नहीं है अनुबंधित टूर ऑपरेटर का कार्यालय

2022 में आदि कैलाश यात्रा के लिए केएमवीएन ने नोएडा यूपी स्थित एक निजी टूर ऑपरेटर DIVINE MANTRA PRIVATE LIMITED ( TRIP TO TEMPLES ) के साथ गठजोड़ किया है।जो उत्तराखंड में स्थापित ही नहीं है।

Read more:MP GOVT.BUDGET SESSION:राज्यपाल के अभिभाषण का जीतू पटवारी ने बहिष्कार किया,कांग्रेस ने किया किनारा

KMVN ने नहीं बताई यात्रा दरें

केएमवीएन ने 2022 में यात्रा दरों का खुलासा नहीं किया है।यदि केएमवीएन कार्यालय में फोन किया जाय तो कोई भी आदि कैलाश यात्रा के बारे में जवाब नहीं देता है। उनके कर्मचारियों का कहना है कि अपना फोन नंबर छोड़ दें, हमारे कार्यालय से कोई आपसे संपर्क करेगा। लेकिन कोई भी आपको यात्रा विवरण नहीं भेजता है।

Read more:मारपीट के आरोपियों के खिलाफ नहीं हो रही कार्यवाही,करणी सेना ने ASP को सौंपा ज्ञापन

धोखाधड़ी करने में माहिर अनुबंधित फर्म डिवाइन मंत्रा

आदि कैलाश यात्रा के लिए KMVN द्वारा अधिकृत एजेंट DIVINE MANTRA वही संगठन है जो 2022 में कैलाश मानसरोवर के लिए परमिट के बारे में बिना किसी भी तथ्य की जानकारी के कैलाश मानसरोवर यात्रा (तिब्बत / चीन) के लिए बुकिंग राशि एकत्र कर रहा है ।
DIVINE MANTRA की इन सभी धोखाधड़ी गतिविधियों के बारे में KMVN पहले से ही परिचित है।
2021 में DIVINE MANTRA आदि कैलाश यात्रियों को अगस्त महीने के लिए इनरलाइन परमिट का आश्वासन दे रहा था, जबकि उत्तराखंड सरकार द्वारा कोई आश्वासन नहीं दिया गया था।
2021 में पर्यटकों के प्रस्ताव में DIVINE MANTRA ने कहा कि केएमवीएन सेवाएं बहुत खराब हैं।