एमपी में आदर्श आचारसंहिता लागू, लंबे अरसे बाद पंचायत चुनाव का ऐलान

तीन चरण मे होगा मतदान

आखिरकार मध्य प्रदेश में पंचायत चुनाव का ऐलान हो गया है। मुख्य निर्वाचन आयोग बसंत प्रताप सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चुनावों का ऐलान कर दिया। उन्होंने बताया कि प्रदेश में तीन चरण में पंचायत चुनाव होंगे। जिससे आज से ही प्रदेश में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है, रिजल्ट आने तक आचार संहिता लागू रहेगी। ऐसे में पंचायत
चुनाव से कुछ जुड़ी अमह जानकारी हम आपको बताने जा रहे हैं

एमपी में आदर्श आचारसंहिता लागू, लंबे अरसे बाद पंचायत चुनाव का ऐलान

पहले चरण का मतदान 6 जनवरी को होगा 

दूसरे चरण का मतदान 28 जनवरी को होगा

16 फरवरी को आखिरी चरण का मतदान होगा।

जिन पंचायतों (Panchayat Chunav) का कार्यकाल मार्च 2022 में पूरा होगा, वहां तभी पंचायत चुनाव कराए जाएंगे, ऐसी ग्राम पंचायतों की संख्या 114 है. हालांकि इनकी जनपद पंचायत और जिला पंचायत सदस्यों का चुनाव अभी कराया जाएगा.  859 जिला सदस्य, 6727 जनपद सदस्य, 22581 सरपंच के होंगे चुनाव. वहीं 362754 लाख पंच चुने जाएंगे. जिला सदस्य के लिए 8000, जनपद सदस्य के लिए 4000, ग्राम पंचायत सरपंच के लिए 2000 और पंच के लिए ₹400 रुपये जमानत राशि तय की गई है. वहीं आरक्षित वर्ग को आधि राशि जमानत के तौर पर देनी होगी.

Read More…मुख्यमंत्री ने की “राशन आपके ग्राम” योजना के अंतर्गत वाहन संचालकों एवं हितग्राहियों से बात


करीब 4 लाख मतदान कर्मी किए जाएंगे तैनात

प्रदेश चुनाव आयोग ने बताया कि 71398 मतदान केंद्रों पर चुनाव कराया जाएगा. 4 लाख 25 हजार मतदान कर्मी नियुक्त किए जाएंगे. प्रत्येक मतदान केंद्र पर एक पीठासीन अधिकारी और 4 मतदान कर्मी नियुक्त होंगे. चुनाव के लिए अलग-अलग रंग के मतपत्र इस्तेमाल किए जाएंगे. मतदान सुबह 7 बजे से दोपहर 3 बजे तक होगा.  मतदाता को वोट डालने के लिए कोई एक पहचान पत्र मतदान केंद्र पर लाना अनिवार्य होगा. पंचायत चुनाव में 55 हजार ईवीएम इस्तेमाल की जाएंगी. 

नामांकन के दौरान प्रत्याशी सिर्फ दो वाहनों को ले जा सकेंगे. ऑनलाइन भी नामांकन किया जा सकता है लेकिन हार्ड कॉपी रिटर्निंग ऑफिसर को सौंपनी जरूरी होगी. हर जिले में एक पर्यवेक्षक नियुक्त किया जाएगा. चुनाव के ऐलान के साथ ही चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है।

read more…एड्स की जागरूकता के लिए विश्व भर में मनाया गया

चुनाव प्रचार 48 घंटे पहले होगा बंद

प्रथम चरण में 6283 ग्राम पंचायतों और 313 जनपदों में चुनाव कराया जाएगा. इसके लिए 19998 मतदान केंद्र बनाए जाएंगे. पहले चरण में 9 जिलों दतिया, हरदा, नरसिंहपुर, अलीराजपुर, निवाड़ी, इंदौर, ग्वालियर और भोपाल में चुनाव कराए जाएंगे. दूसरे चरण में 7 जिलों बुरहानपुर, जबलपुर, सिंगरौली, उमरिया, अनूपपुर, श्योपुर, देवास में चुनाव होगा. तीसरे चरण में बाकी पंचायतों में चुनाव होगा. चुनाव आयोग ने चुनाव प्रचार 24 घंटे पहले बंद की समय सीमा को बढ़ाकर 48 घंटे कर दिया है.