REWA:प्रेमी से मिलने में बाधा बन रही थी बेटी,मां ने पीटपीटकर कर दी हत्या

REWA:प्रेमी से मिलने में बाधा बन रही थी बेटी,मां ने पीटपीटकर कर दी हत्या
REWA:प्रेमी से मिलने में बाधा बन रही थी बेटी,मां ने पीटपीटकर कर दी हत्या

प्रेमी और मां दोनों पहुंचे सलाखों के पीछे,रीवा (rewa)जिले के रायपुर कर्चुलियान के कोष्टा गांव की घटना

बुलंदसोच न्यूज़,27 अप्रैल 2021 रीवा(Rewa).

आपने यह कहावत तो अवश्य सुनी होगी कि पूत यानी पुत्र कुपुत्र हो सकता है लेकिन माता कुमाता नहीं हो सकती है,लेकिन एक कलयुगी मां ने अपनी 4 वर्षीय मासूम बेटी की पीटपीटकर हत्या कर इस कलयुगी माता ने उस कहावत को झूठा साबित कर दिया है।रीवा(rewa)जिले के रायपुर कर्चुलियान थाना क्षेत्र के कोष्टा गांव में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला ने प्रेमी के साथ मिलकर अपनी ही मासूम बेटियों की जमकर पिटाई की। चार साल की एक बच्ची ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। महिला अपने प्रेमी के साथ रहना चाहती थी, लेकिन उसे लगा कि बच्चियां इसमें रोड़ा बन रही हैं। वह इन्हें रास्ते से हटाना चाहती थी। बड़ी बेटी ने जब यह बात अपने चाचा को बताई, तब मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने आरोपी मां और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।

Read more:पढ़ेगा इंडिया… या चुनावी दांव देखेगा इंडिया?

राहुल मिश्रा निवासी कोष्टा की पत्नी अंजू मिश्रा गांव में अकेली रहती है। उसकी दो बेटियां हैं। बड़ी बेटी तनु मिश्रा (5) और छोटी बेटी तन्वी मिश्रा (4) है। अंजू का पति एक राहुल किसी मामले में जेल में बंद है। इसके बाद अंजू का बेलवा पैकान के रहने वाले दीपक ठाकुर से प्रेम प्रसंग हो गया। अंजू पति से तलाक लेकर प्रेमी से शादी करना चाहती थी। दोनों बेटियां रुकावट थीं। अंजू ने बेटियाें को मारने(हत्या)का प्लान बनाया। उसने प्रेमी के साथ मिलकर दोनों बेटियों को जमकर पीटा। इससे छोटी बेटी की हालत खराब हो गई।

अस्पताल जाने के बाद खुली पोल

अंजू प्रेमी के साथ मिलकर छोटी बेटी को अस्पताल लेकर पहुंचे। घर पर मौजूद बड़ी बेटी ने चाचा को पूरा घटना क्रम बता दिया। चाचा गोलू मिश्रा ने अस्पताल पहुंचकर जानकारी जुटाई, लेकिन यहां कोई नहीं मिला। गोलू ने घटनाक्रम रायपुर कुर्चलियान पुलिस को बता दिया। सोमवार सुबह पुलिस सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल पहुंचकर साक्ष्य जुटाए, तो पूरी कहानी सामेन आई। साथ ही कुछ देर बाद मासूम ने भी दम तोड़ दिया।

Read more:बिना रजिस्ट्रेशन नहीं लगेगी कोरोना की वैक्सीन,ऐसे करें पंजीयन

मासूम की मां ने घटना छिपाई, नाम-पता गलत लिखवाया

पुलिस की मानें तो अंजू ने पूरी घटना को छिपाए हुई थी, लेकिन बड़ी बेटी ने परिवार के अन्य लोगों को मारपीट की बात बताई, तो सच्चाई सामने आ गई। जिस पर तन्वी के चाचा गोलू मिश्रा अस्पताल पहुंचे जहां पता चला कि उसकी मौत हो गई है। जानकारी ली तो पता चला कि मासूम का नाम तन्वी पाण्डेय लिखाया गया। वहीं , भर्ती कराने वाले दीपक ठाकुर ने अपना नाम दीपक पाण्डेय लिखाया। इसके साथ ही पता कोष्टा की जगह रतहरा लिखाया गया था।

यह भी पढ़ें:सीएम के निर्देश:शादी में 10 लोगों के शामिल होने की अनुमति दें,न मानने पर सख्त कार्यवाही करें