विद्यालय में ताला लगाकर छुट्टी मना रहे शिक्षक,शैक्षणिक समय मे बंद मिली प्राथमिक पाठशाला अमरैया

रीवा में बंद विद्यालय

उपस्थित पंजी बदलने में माहिर पदस्थ प्राथमिक शिक्षक

बुलंदसोच ब्यूरो,10 अगस्त 2022 रीवा।

जिले में शिक्षा व्यवस्था का क्या हाल है,इसका पता कुछ विद्यालयों के निरीक्षण में ही पता लग गया।जिले में शिक्षक विद्यालय में ताला लगाकर आराम फरमा रहे हैं।मामला मार्तण्ड क्रमांक 3 संकुल केन्द्र अन्तर्गत प्राथमिक पाठशाला अमरैया दुआरी का है।गंभीर बात तो ये है कि उपस्थित पंजी में छात्र और शिक्षक दोनों उपस्थित हैं।

Read more:अजब गजब : पत्नी को मंदिर छोड़कर प्रेमिका के साथ घूमने निकल गया पति

ग्रामीण क्षेत्र तो दूर शहरी क्षेत्र में शिक्षा व्यवस्था और शिक्षकों की स्थिति यह है कि अधिकांश विद्यालय न तो समय पर खुलते हैं और न ही समय पे बंद होते हैं।इसकी पोल उस समय खुल गई जब मीडिया के कैमरे में प्राथमिक पाठशाला अमरैया दुआरी शैक्षणिक समय मे दोपहर 2 बजे से पहले ही बंद मिली।मीडिया के कैमरे में विद्यालय में लगे ताले की तस्वीर कैद हो गई।

स्थानीय लोगों ने बताया कि विद्यालय में दो प्राथमिक शिक्षक पुनीता मिश्रा एवम समयलाल वर्मा पदस्थ हैं,विद्यालय कभी भी न तो समय पर खुलता है और न ही बंद होता है।पुनीता मिश्रा के बारे में बताया गया कि यह कभी विद्यालय आती ही नहीं है,सप्ताह में एक दिन आकर हस्ताक्षर कर चली जाती हैं।और यदि कोई जांच में आया तो इनका बिना स्वीकृत अवकाश का आवेदन दूसरे शिक्षक समयलाल के पास मिल जाएगा।

उपस्थित पंजी बदलने में माहिर शिक्षक

एक वर्ष पूर्व भी शैक्षणिक समय मे यह विद्यालय बंद मिला था,जानकारी मिलने पर आनन फानन में समय लाल वर्मा विद्यालय पहुंचे और ताला खोला।विद्यालय की उपस्थिति पंजी देखी गई तो 11 दिन से पुनीता मिश्रा बिना स्वीकृति अवकाश के विद्यालय में नहीं थी।समयलाल वर्मा द्वारा 11 दिन का सीएल उपस्थित पंजी में दर्ज कर दिया गया।बाद में उपस्थित पंजी को बदलकर तीन दिन का सीएल और अन्य दिनों में मेडिकल अवकाश दर्ज किया गया।

सीएसी की भूमिका भी संदेहात्मक

वैसे तो विद्यालयों में निरीक्षण के लिए जन शिक्षकों की नियुक्ति की गई है,लेकिन इनके द्वारा कभी भी जांच नहीं की जाती है।बताया गया कि यहाँ सीएसी के तौर पर गुंजन पांडेय नियुक्त हैं लेकिन यह कभी भी जांच नहीं करती हैं।

जानकारी प्राप्त हुई है,वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित कर कार्यवाही के लिए पत्र लिखा जायेगा।

आर एल दीपांकर
संकुल प्राचार्य,मार्तण्ड क्रमांक 3

शैक्षणिक समय मे विद्यालय बंद होने की जानकारी गंभीर है,लापरवाह शिक्षकों पर सख्त कार्यवाही की जाएगी।

जी पी उपाध्याय
जिला शिक्षा अधिकारी रीवा।

Read more:देश की 15 वीं राष्ट्रपति बनी द्रौपदी मुर्मू,CJI ने महामहिम को दिलाई शपथ