MP बोर्ड परीक्षा में सक्सेस के टिप्स:ऑब्जेक्टिव प्रश्न सबसे पहले करें, कठिन सवाल छोड़ दें; हेडिंग हमेशा पेज के सेंटर में लिखे।

एमपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 17 और 18 फरवरी से शुरू हो रही हैं। परीक्षा के दौरान कुछ छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखकर तनाव से बचा सकता है। इससे ही परीक्षा में बेहतर स्कोर किया जा सकता है। सबसे ज्यादा जरूरी है कि पेपर ब्लू प्रिंट पर आधारित रहेंगे। सिलेबस के अनुसार तैयारी करें। कम सिलेबस को ही परफेक्ट करना है।
बोर्ड एग्जाम के डर से बाहर आएं। सभी लोग यह दिमाग में भर देते हैं कि बोर्ड एग्जाम है यार… बोर्ड एग्जाम है। 11वीं नहीं 12वीं है। इस डर को निकाल दें। सुभाष एक्सीलेंस स्कूल की लेक्चरर अर्पणा नारोलिया ने बोर्ड एग्जाम में सावधानियां बरतने के बारे में बताया।
बोर्ड कॉपी की एंट्री अच्छे से भरें
सेंटर पर पहुंचकर रूम नंबर देखें। अपने रूम में जाएं। सिर्फ जरूरी चीज ही ले जाएं। ऐसी चीज न ले जाएं, जो परीक्षा हॉल के बाहर छोड़ना पड़े। इससे कीमती चीज बाहर छूटने से छात्र का ध्यान उसी चीज के परीक्षा के बाद सही से मिलने की सोच के कारण भटकता है। शांत दिमाग से परीक्षा दें। सबसे पहले रोल नंबर लिखें। ओवर राइटिंग न करें। रूम नंबर लिखें। क्लास और डेट और मीडियम को भरना जरूरी होता है। एक नजर में सभी चीजों को सही से भरना है। कॉपी के पेज देखें। कॉपी कटी फटी तो नहीं है। धागा तो नहीं निकल रहा, इसलिए समय से पहले पहुंचे।
पेपर को अच्छे से पढ़ें, डरें नहीं
किसी टफ प्रश्न पर अटकें तो सबसे पहले ऑब्जेक्टिव प्रश्न करें। इस बार से सभी ऑब्जेक्टिव प्रश्न में सिर्फ उत्तर नहीं लिखना है। उसे सवाल के साथ लिखना है। उदाहरण के लिए देश के पहले प्रधानमंत्री कौन थे। प्रश्न लिखकर उसमें सही जगह पर उनका नाम लिखें और उसे अंडर लाइन करें। सभी प्रश्न एक क्रम में दें। इसके बाद सबसे ज्यादा नंबर वाले प्रश्न पहले हल करना शुरू करें। जो सवाल ठीक से नहीं बन रहा है। उसे बाद के लिए छोड़ें। उस पर समय बर्बाद न करें। जो बन रहे हैं, उसे सबसे पहले हल करें। इससे दिमाग में टेंशन नहीं आएगा।
ऑब्जेक्टिव में पूरे नंबर इस तरह लें
ऑब्जेक्टिव प्रश्न में पूरे नंबर लेने के लिए थ्योरी अच्छे से पढ़ें। इसी से प्रश्न पूछे जाते हैं। अगर थ्योरी अच्छे से पढ़ी है, तो ऑब्जेक्टिव प्रश्न पूरे बनेंगे। इसमें पूरे नंबर मिलेंगे। यही आपका रिजल्ट अच्छा बनाएगा।
इस तरह कॉपी लिखें
कॉपी में टॉपिक की हेडिंग हमेशा सेंटर में लिखें। कॉपी के बाएं तरफ से लिखने पर कॉपी बांधने या स्टैपल करने पर वह छिप जाता है। ऐसे में उसके मार्क्स पर असर पड़ता है। इसलिए हमेशा कॉपी के सेंटर में ही हेडिंग लिखें। हेडिंग और सब हेडिंग का ध्यान रखें। रफ कार्य के लिए बार-बार पीछे न जाएं। उसी पेज पर नीचे लिखे वर्क नोट लिख दो।
सुबह पढ़ाई करना शुरू करें
रात साढ़े 11 बजे तक पढ़ाई करें और उसके बाद सो जाएं। सुबह जल्दी उठकर पढ़ाई करने की आदत डालें। पांच मिनट यह सोचें कि कल क्या पढ़ा था और आज क्या पढ़ना है। परीक्षा के दौरान सिर्फ जरूरी सामग्री अपने साथ ले जाएं। किसी से भी कुछ बोर्ड एग्जाम में लेने की अनुमति नहीं होती है। टेबल पर सामान फैलाकर न रखें।