मऊगंज को जिला बनाने एक बार फिर दहाड़े सुखेन्द्र सिंह बन्ना,MP सरकार को दी चेतावनी कहा 6 महीने की देता हूँ मोहलत

मऊगंज को जिला बनाने एक बार फिर दहाड़े सुखेन्द्र सिंह बन्ना,MP सरकार को दी चेतावनी कहा 6 महीने की देता हूँ मोहलत
मऊगंज को जिला बनाने एक बार फिर दहाड़े सुखेन्द्र सिंह बन्ना,MP सरकार को दी चेतावनी कहा 6 महीने की देता हूँ मोहलत

बुलंदसोच न्यूज़,20 सितंबर 2021 रीवा।

मऊगंज को जिला बनाने की मुहिम को तेज करते हुए पूर्व विधायक सुखेन्द्र सिंह बन्ना ने एक बार पुनः हुंकार भरते हुए मध्यप्रदेश की बीजेपी सरकार को चेतावनी दी है।कहा कि 6 महीने की मोहलत शासन-प्रशासन को दे रहे हैं।जिला बनाने की कार्यवाही शुरू कर दें।अन्यथा सरहद की लकीर स्वयं खींच देंगे।यह बातें उन्होंने जनआक्रोश आंदोलन के दौरान जनता को संबोधित करते हुए कही है।

जनपद पंचायत प्रांगण में 20 सितम्बर को मऊगंज को जिला बनाने,बेरोजगारी,बढ़ती महंगाई,किसानों को उद्वहन सिंचाई योजना के तहत पानी उपलब्ध कराने समेत विभिन्न जन हितैषी मुद्दों को लेकर विशाल जन आक्रोश आंदोलन का आयोजन पूर्व विधायक के आव्हान पर किया गया।इस कार्यक्रम में कांग्रेस पार्टी से राज्यसभा सांसद राजमणि पटेल,विनोद शर्मा समेत कई वरिष्ठ नेता एवं स्थानीय नेता उपस्थित रहे।जनाक्रोश आंदोलन में भारी जन सैलाब उमड़ा।जनता को संबोधित करते हुए सुखेन्द्र सिंह ने देश और प्रदेश में काबिज भाजपा सरकार को आड़े हांथो लेते हुए कई तीखे सवाल किए।

जननेता ने कहा कि केंद्र में काबिज मोदी सरकार ने 2 करोड़ रोजगार प्रतिवर्ष देने का वादा जनता से किया था।लेकिन इस सरकार में स्थिति यह है कि रोजगार मिलने के बजाय जिनके पास रोजगार थे।वह भी छिन गए।लोग बेरोजगार हो गए।महंगाई डायन खाये जात है।गाना प्रसारित करने वाली पार्टी,बहुत हुई महंगाई की मार अबकी बार मोदी सरकार के नारे देने वाली पार्टी में अब हालात क्या हैं।खाद्य तेल,डीजल-पेट्रोल,अन्य दैनिक उपयोग की सामग्री कितनी महंगी हो चुकी है।आम नागरिक आज जीवन नहीं जी पा रहा है।यह सरकार अम्बानी-अडानी के यहां गिरवी हो चुकी है।

6 महीने की शासन-प्रशासन को मोहलत

Read more:मऊगंज को जिला बनाने सहित विभिन्न मांगो को लेकर 20 सितम्बर को होगा जन-आक्रोश आंदोलन:सुखेन्द्र सिंह “बन्ना”

मऊगंज को जिला बनाने की मांग को प्रमुखता से उठाते हुए उन्होंने शासन प्रशासन को 6 महीने की मोहलत दी है।कहा है कि कांग्रेस सरकार ने तीन जिले मैहर,नागदा,चाचौड़ा को जिला बनाने की घोषणा की थी।जिसे सरकार ने रद्द कर दिया।यदि कांग्रेस की सरकार 5 वर्ष पूर्ण रूप से चलती।तो मऊगंज जिला अवश्य बनता।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 2008 में मऊगंज को जिला बनाने की घोषणा जनसभा में की थी।लेकिन उसके बाद निवाड़ी को जिला बनाया गया।और अब देवास जिले की बागली तहसील को जिला बनाने की घोषणा सरकार ने की है।इन सब के पहले जिला बनने की पात्रता मऊगंज रखता है।लेकिन सरकार को जनता की मांगे दिखाई नहीं दे रही है।6 महीने की मोहलत सरकार के पास है।यदि जिला बनाने की मुहिम सरकार ने शुरू नहीं कि तो हम स्वयं जिला की सरहद बना देंगे।

पचास हजार आमजन जनाक्रोश आंदोलन में हुए शामिल

Read more:उपलोकायुक्त एवं उच्च न्यायालय के जस्टिस से अधिवक्ता संघ सचिव अखिलेश दुबे ने की सौजन्य भेंट,अधिवक्ताओं के कल्याण हेतु की चर्चा

जनाक्रोश आंदोलन में मऊगंज विधानसभा क्षेत्र की पचास हजार जनता शामिल हुई।और एक स्वर में मऊगंज को जिला बनाने की मांग प्रदेश सरकार से की।वक्ताओं के भाषण उपरांत 50000 जनता एवं कांग्रेस नेताओं ने शासकीय महाविद्यालय में बने अस्थायी जेल में जाकर गिरफ्तारी दी।

गरीब-शोषित वर्ग के नेता सुखेन्द्र:सांसद

जनसभा में पूर्व मंन्त्री राज्यसभा सांसद राजमणि पटेल ने शिरकत की।औऱ जनसभा को संबोधित करते हुए सांसद ने कहा कि में बन्ना जी को एक क्रांतिकारी नेता और दलित शोषित पीड़ितों का मशीहा हैं।उन्होंने आज यह जनाक्रोश आंदोलन का आयोजन कर यह साबित कर दिया है कि उनके लिए जनता की समस्याएं और जनता से बढ़कर कुछ नहीं है।ऐसे जननेता विरले ही होते हैं।जो जनता को ही सदैव सर्वोपरि मानते हैं।और जनता के दिलों में राज करते हैं।इस आंदोलन में शामिल आमजन भी बधाई के पात्र हैं।जो अपने नेता से इतना प्रेम और स्नेह करते हैं।