आयुर्वेद चिकित्सा भर्ती पेपर लीक मामला:भर्ती परीक्षा रद्द करने प्रदर्शन की तैयारी कर रहे चिकित्सा अधिकारी

आयुर्वेद चिकित्सा भर्ती पेपर लीक मामला:भर्ती परीक्षा रद्द करने प्रदर्शन की तैयारी कर रहे चिकित्सा अधिकारी
आयुर्वेद चिकित्सा भर्ती पेपर लीक मामला:भर्ती परीक्षा रद्द करने प्रदर्शन की तैयारी कर रहे चिकित्सा अधिकारी

भोपाल एवं लोक सेवा आयोग के दफ्तर के सामने प्रदर्शन

बुलंदसोच ब्यूरो भोपाल।

25 सितंबर को प्रदेश की राजधानी भोपाल समेत चार जिलों में आयोजित हुई आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी(ayurveda medical officer)की भर्ती परीक्षा (recruitment exam) में पेपर लीक एवं गड़बड़ियों को लेकर आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी प्रदर्शन करने की तैयारी कर रहे हैं।इसको लेकर भोपाल कलेक्टर कार्यालय में आवेदन भी दिया गया है।जानकारी के मुताबिक लोक सेवा आयोग इंदौर के दफ्तर के सामने एवं भोपाल में आंदोलन करेंगे।

गौरतलब है कि आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी (ayurveda medical officer) के 692 पदों की भर्ती वाली परीक्षा 25 सितंबर को भोपाल,इंदौर,ग्वालियर और जबलपुर शहर में आयोजित की गई थी।अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया कि बुकलेट में प्रश्न पत्र के नंबर पर व्हाइटनर लगा हुआ मिला था।परीक्षा में शामिल अभ्यर्थियों ने भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी की आशंका जताई थी।जिसकी शिकायत राज्य शासन और एमपीपीएससी से भी की गई थी लेकिन भर्ती परीक्षा अब तक रद्द नहीं हुई।

4300 अभ्यर्थी परीक्षा में हुए थे शामिल

692 पदों के लिए आयोजित आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी के पद हेतु करीब 4300 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए थे। प्रश्न पत्र के चार सेट थे।चार सेटों में गड़बड़ी की आशंका जताई गई थी।

30 बुकलेटों में मिली गड़बड़ी

ग्वालियर के केआरजी गर्ल्स कॉलेज, जबलपुर के एमएलबी स्कूल और भोपाल के बरखेड़ा स्थित महात्मा गांधी स्कूल में लगभग 20 बुकलेट में व्हाइटनर लगा निकला है। एमपी पीएससी के चेयरमैन और सेक्रेटरी के नाम लिखित में सारी शिकायतें की गई है। ये भी कहा गया है कि कई परीक्षा सेंटर में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे हुए थे।

बताया गया कि परीक्षा शुरू होने के बीच कुछ परीक्षकों प्रश्न-पत्र लेकर बाहर चले गए थे। सेंटरों पर अभ्यर्थियों ने बुकलेट को लेकर शिकायतें की, लेकिन सुनवाई नहीं हुई। इसकी जांच होना चाहिए।बता दें कि प्रदेश में 9 साल के बाद परीक्षा हुई है। इस तरह की गड़बड़ी की जांच होना चाहिए।